rahat indori love shayari – ishayari.in

बीमार को मरज की दवा देनी चाहिए मैं पीना चाहता हूं, पिला देनी चाहिए अल्लाह बरकतों से नवाजेगा इश्क़ में है जितनी पूंजी पास लगा देनी चाहिए ये दिल किसी फ़क़ीर के हुजरे से कम नहीं दुनिया यहीं पे ला के छुपा देनी चाहिए मैं ताज हूं तो सर पे…

rahat indori shayari in urdu

दोस्ती जब किसी से की जाये दुश्मनों की भी राय ली जाए मौत का ज़हर हैं फिजाओं में अब कहा जा के सांस ली जाए बस इसी सोच में हु डूबा हुआ ये नदी कैसे पार की जाए मेरे माजी के ज़ख्म भरने लगे आज फिर कोई भूल की जाए…

Rahat indori sad shayari in hindi

कश्ती तेरा नसीब चमकदार कर दिया इस पार के थपेड़ों ने उस पार कर दिया अफवाह थी की मेरी तबियत ख़राब हैं लोगो ने पूछ पूछ के बीमार कर दिया 💓 रातों को चांदनी के भरोसें ना छोड़ना सूरज ने जुगनुओं को ख़बरदार कर दिया रुक रुक के लोग देख…