DMCA.com Protection Status

“दिन बीत जाते हैं सुहानी यादें बनकर,
बातें रह जाती हैं कहानी बनकर,
पर दोस्त तो हमेशा दिल के करीब रहेंगे,
कभी मुस्कान तो कभी आखों का पानी बन कर.”

“दोस्त की अहमियत समझो तो दोस्ती करना,
दर्द की अहमियत समझो तो मोहब्बत करना,
वादे की अहमियत समझो तो उसे पूरा करना,
ओर हमारी अहमियत समझो तो याद ज़रूर करना.”

“काश  कुछ ऐसा  हो जाये,
SMS इन्कमिंग  भी चार्जेबल हो  जाये,
मेरे  दोस्त चिल्ला-चिल्ला  कर मुझे मनाकरें,
और  मुझे  उनकी जेब  ढीली करने में  मज़ा आ जाये।”

“कंजूसों की जिंदगी क्या जीना,
कभी हमारी तरह भी जिया करो,
रोज मेरे SMS पढ़ कर शरम नहीं आती,
कभी खुद भी SMS किया करो.”

“इश्क के सहारे जिया नहीं करते,
गम के प्यालों को पिया नहीं करते,
कुछ नवाब दोस्त हैं हमारे,
जिनको परेशान न करो तो वो याद ही किया नहीं करते.”

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *