DMCA.com Protection Status

“सारी उम्र आँखों में एक सपना याद रहा,

सदियाँ बीत गयी पर वो लम्हा याद रहा,

न जाने क्या बात थी उन मे और हम मे,

सारी महफिल भूल गए बस वही एक चेहरा याद रहा”

“कहती है दुनिया जिसे प्यार, नशा है ,

खताह है, हमने भी किया है प्यार ,

इसलिए हमे भी पता है, मिलती है,

थोड़ी खुशियाँ ज्यादा गम,

पर इसमें ठोकर खाने का भी कुछ अलग ही मज़ा है”

“उल्फत का अक्सर यही दस्तूर होता है,

जिसे चाहो वही अपने से दूर होता है,

दिल टूटकर बिखरता है इस कदर,

जैसे कोई कांच का खिलौना चूर-चूर होता है”

“सदियों बाद उस अजनबी से मुलाक़ात हुई,

आँखों ही आँखों में चाहत की हर बात हुई,

जाते हुए उसने देखा मुझे चाहत भरी निगाहों से,

मेरी भी आँखों से आंसुओं की बरसात हुई”

“कोई कहता है प्यार नशा बन जाता है,

कोई कहता है प्यार सज़ा बन जाता है,

पर प्यार करो अगर सच्चे दिल से,

तो वो प्यार ही जीने की वजह बन जाता है”

“तुझे भूलकर भी न भूल पायेगें हम,

बस यही एक वादा निभा पायेगें हम,

मिटा देंगे खुद को भी जहाँ से लेकिन,

तेरा नाम दिल से न मिटा पायेगें हम”

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *