Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

♣मोहब्बत का सफर लंबा हुआ​;​​​तो क्या हुआ, थोड़ा तुम चलो​;​थोड़ा हम चले, थोड़ा तुम चलो;​​थोड़ा हम चले, फिर रिक्शा कर लेंगे।♣

♣धोती ने कहा पज़ामे से;हम दोनों बने हैं धागे से;फर्क तो सिर्फ इतना है कि;मैं खुलता हूँ पीछे से और;तुम खुलते हो आगे से।♣

♣”””ताज महल”””” बनाया तो कौन सा पहाड़ गिराया, आखिर “”””शाह जहां”””” बड़ी हस्ती थी;अरे, ताज महल तो हम भी बनवा देते, लेकिन हमारी मुमताज ही गश्ती थी!♣

♣मोहब्बत करने वालों को इनकार अच्छा नहीं लगता;दुनिया वालों को ये इक़रार अच्छा नहीं लगता;जब तक लड़का-लड़की भाग ना जाएँ;सालों को प्यार सच्चा नहीं लगता।♣

♣एक कवि गरीबी से तंग आकर डाकू बन गया, डकैती करने एक बैंक गया और बोला: अर्ज हैतकदीर में जो है वही मिलेगा,हैंड्स अप कोई अपनी जगह से नहीं हिलेगा.फिर कैशियर के पास गया और बोला:कुछ ख्वाब मेरी आंखों से निकाल दो,जो कुछ भी तुम्हारे पास है जल्दी से इस बैग में डाल दो.बहुत कोशिश करता हूं तेरी याद भुलाने की,कोई कोशिश नहीं करें पुलिस को बुलाने की.भुला दे मुझको क्या जाता है तेरा,मैं गोली मार दुंगा, जो किसी ने पीछा किया मेरा♣.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *