तनहाइयों मे मुस्कुराना इश्क़ है, एक बात को सब से छुपाना इश्क़ है,

यूँ तो नींद नही आती हमें रात भर, मगर सोते सोते जागना और जागते जागते सोना इश्क़ है. 

 

इश्क़ ने हमे बेनाम कर दिया, हर खुशी से हमे अंजान कर दिया,

हमने तो कभी नही चाहा के हमे भी मोहब्बत हो,

लेकिन आप की एक नज़र ने हमे नीलाम कर दिया . 

 

हवाें सर्द चल रही है,कोई तूफान आने को है.

हुस्न बैठा है पास मेरे, हमे इश्क़ होने को है. 

 

तेरी तस्वीर जब देखु,मुझ को याद आए तू,

साँसों में,आहों में,धड़कन में मेरे है.

जीना तेरे लिए,मरना तेरी खातिर,

इश्क़ का सेहरा बंधा सर पर मेरे है. 

 

चाहत के यह कैसे अफ़साने हुए, खुद नज़रों मे अपनी बेगाने हुए,

किसी भी रिश्ते का ख़याल नही मुझे, इश्क़ मे तेरे इस कदर दीवाने हुए.. 

 

अजीब अंधेरा है ए इश्क़ तेरी मैफिल में

किसी ने दिल भी जलाया तो रोशनी ना हुई. 

 

वफ़ा का दरिया कभी रुकता नही, इश्क़ में प्रेमी कभी झुकता नही,

खामोश हैं हम किसी के खुशी के लिए, ना सोचो के हमारा दिल दुःखता नहीं! 

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

thank you, for support